सेल्फ स्टडी कैसे करें? जाने Top 10 Self Study Tips in Hindi

सेल्फ स्टडी कैसे करें? जाने Top 10 Self Study Tips in Hindi


सिर्फ घर पर बैठ कर पढ़ाई करना ये कोई सेल्फ स्टडी नहीं हुआ. खुद से पढ़ने के लिए कुछ नियम होते हैं. इस पोस्ट में जानेंगे सेल्फ स्टडी कैसे करें?(Self Study Kaise kare hindi)

हाय दोस्तों आज चर्चा करेंगे एक और नए टॉपिक पर तो इसे पुरा जरूर पढ़ने की कोशिश करें। आपने कई बार यह सुना होगा की बहुत से ऐसे भी Student होते हैं। जो बिना स्कूल या कॉलेज गए परीक्षा में बहुत ही अच्छे अंको के साथ पास हो जाते हैं। और पता है ये कैसे संभव हुआ वह यह है सेल्फ स्टडी करने से। सेल्फ स्टडी ऐसा तरीका है जिसे अपना कर एक कमजोर छात्र भी पढ़ने में काफी अच्छे हो जाता है।

कहीं आप यह सोच रहे होंगे की सेल्फ स्टडी क्या होता है? तो सेल्फ स्टडी का मतलब घर पर खुद से पढ़ाई करना होता है। जिसे आम भाषा में सेल्फ स्टडी करना कहते हैं। इस दौरान पढ़ने के साथ सीखना और विषयों को गहराई से समझना भी सकतें हैं।


लेकिन इसकी सबसे बड़ी समस्या यह है की सेल्फ स्टडी करने के वजुद भी छात्र असफल हो जाते हैं। पता है क्यूँ क्योंकि वे ठीक से पढ़ाई नहीं करते हैं। और उन्हें सेल्फ स्टडी करने का तरीका पता नहीं होता है। मेरा कहने का मतलब ये है की वो टिप्स को नहीं अपनाते हैं जो पढ़ाई करते वक्त उपयोग करना चाहिए। आइए जानते हैं  सेल्फ स्टडी कैसे करें?(Self Study Kaise karen) और Self Study Tips in Hindi.

सेल्फ स्टडी कैसे करें? Top 10 Self Study Tips in Hindi
सेल्फ स्टडी कैसे करें? जाने Top 10 Self Study Tips in Hindi


सेल्फ स्टडी कैसे करें? Top 10 Self Study Tips In Hindi.

1. स्टडी के लिए एक लक्ष्य बनाएं

एक स्टूडेंट के लिए एक लक्ष्य होना बहुत ही जरूरी है तभी हम किसी चीज के लिए मेहनत कर सकते हैं। तो सबसे पहले ये खुद से पुछ लें की आपको पढ़ाई क्यों करनी हैं? पढ़ने के पीछे हर किसी का सपना होता है की हमें आगे जाकर यह करना है। बस आप समझ रहे होंगे की क्या समझाने की कोशिश कर रहें हैं।

2. पढ़ने के लिए रूटीन बनाएं

अगर घर पर सेल्फ स्टडी करनी है। तो एक समय सारणी बनाना बहुत ही ज्यादा जरूरी हो जाता है। जिससे की सभी विषयों को समय के अनुसार पढ़ सकें। अब रूटीन बनाने में किसी का नकल ना करें। क्योंकि हर स्टूडेंट के पास समय अलग-अलग होते हैं। ऐसा भी हो सकता है की जब आपका मन पढ़ाई करने का हो उस वक्त कोई स्टूडेंट खेल रहा हो। स्टडी के लिए समय का चुनाव खुद ही करें। इसके लिए आप अपने हिसाब से समय सेट करें। और किसी के कहने पर एक ही समय में पढ़ना शुरु ना कर दें। जब आपको पढ़ाई करने का मन हो या तो सुबह हो या शाम को हो पढ़ाई कर सकते हैं। सेल्फ स्टडी करने के लिए बहाने बनाना छोड़ दें। हो सके तो आज या अभी से शुरु करें।

3. पूरी ध्यान लगाने की कोशिश करें

सेल्फ स्टडी करते हुए खुद ही पूरी ध्यान लगाने की जरूरत होती है। क्योंकि यहाँ स्कूल या कोचिंग के जैसा कोई टीचर नहीं होंगे। या तो समझे खुद के टीचर खुद ही बनना होगा। इसलिए शोर वाले जगह पर पढ़ाई करने से बचें। और अपनी सुविधा के अनुसार पढ़ाई करने का उपयुक्त जगह का चयन करें। 
स्टडी करते वक्त रेगुलर पढ़ाई करें ऐसा न हो की इधर-उधर की भी बातें करें और सिर्फ किताब लेकर बैठे रहें।


4. सुबह में पढ़ाई करें

बहुत से बच्चों को यह पसंद होता है की वे सेल्फ स्टडी सुबह में करें। और बहुत से हुए शोध में भी यह पाया गया है की सुबह में पढ़ाई करना छात्रों के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक होता है। 

ऐसे में आप चाहे तो सुबह के समय पढ़ सकते हैं। उस वक्त पर पढ़ने या लिखने के जगह याद करने की कोशिश करें। और हाँ ऐसा ना करें की बहुत ही ज्यादा पहले जग जाएं। उठने के बाद ऐसा ना लगना चाहिए की अभी नींद आ रहा है।

5. पढ़ाई को सीखें

कई स्टूडेंट ऐसे भी होतें हैं की जो स्कूल या कोचिंग में मिले हुए होम वर्क को सोल्व करते हैं, और ये सोचते ही की यह सेल्फ स्टडी है| लेकिन इसे तो खुद का काम करना कह सकते हैं, सेल्फ स्टडी का मतलब यह होता है की खुद से नए-नए प्रश्नों को हल करना होता है, और इसे प्लान भी खुद के द्वारा किए हो| 

जब सेल्फ स्टडी के दौरान आप कुछ सीख नहीं रहे हो तो ये कोई काम का नहीं हैं, तो सेल्फ स्टडी करते वक्त सिखने पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान दें, और अंत में एक Summary बनाएं की आज आपने सेल्फ स्टडी के दौरान क्या-क्या सिखा|

6. इतने समय स्टडी करें

सेल्फ स्टडी करना ये नहीं हैं की सिर्फ बहुत लम्बे समय तक पढ़ाई करें तो वह एक बहुत ही अच्छी पढ़ाई हुई| तो इसके लिए समय प्रबंधन जरूर करें|

पढ़ने में समय का बहुत ही बड़ी भूमिका है, और अपने दिनचर्या के अनुसार सेट करें| फिर भी सेल्फ स्टडी करना कैसे हैं तो आइए सामझते हैं | एक दिन में कुल 24 घंटा होता है तो इसके बीच में ही अपनी दिनचर्या का 30% हिस्सा पढ़ने के लिए रखें, और इस समय में हर एक घंटे में 20 मिनट का ब्रेक लें और फिर पढ़ाई करें और ये हर घंटे दोहराते रहें, ऐसा करने से होगा यह की लम्बे समय तक सेल्फ स्टडी कर सकते हैं|

7. CONCEPT को समझें

दोस्तों जैसा की आपको भी पता है की एग्जाम में पूछे जाने वाले प्रश्न एक Short Form में होते हैं, जो कहीं से एक Point की और इशारा करता है| या तो कोई मुख्य विषय से पूछे होते है|

लेकिन आप पढ़ने के दौरान ऐसा ना करें, सीधी सवालों को रटने के जगह एक लम्बे और एक पूरी चैप्टर को पढ़ना शुरू करें| लेकिन आपके मन में ऐसा सवाल भी हो सकता है की इससे क्या होगा| तो मैं आपका सवालों का समस्या दूर करता हूँ, एक Objective Question याद करने पर आप सिर्फ वही जान पाते हो जो एक लाइन में लिखी होती है| लेकिन आप लघु उतरिय या पूरी एक विषय पढ़ने के दौरान पूरी Concept को समझते हो| और इसमें एक सवाल के साथ अनेक प्रकार के टॉपिक मिलते जाते हैं। और इसे समझने का कोशिश करें। जिससे की पढ़े हुए चीजें लम्बे समय तक याद रहेगा।

8. रिविजन करें

घर पर पढ़ाई करते वक्त यह ध्यान रखें की जब Topic लम्बे वक्त के लिए याद रखनी है या टॉपिक को समझना हो तो एक टॉपिक को बार-बार पढ़ें। और उसमें मुख्य बिंदु को नोट करते जाएं। और फिर उसे सप्ताह के अंत में एक बार जरूर पढ़ें।

सेल्फ स्टडी करना हो तो एक नोट जरूर बनाएं और हर रोज पढ़ने के दौरान उस पर मुख्य बिंदु को चिन्हित कर लिखते जाएं और आप चाहें तो मुख्य प्रश्नों को भी शामिल कर सकते है।

नोट तैयार करते वक्त ये ध्यान रखें की सिर्फ उसमें वही Topic लिखें जो आपने पढ़ें हो।

10. Mok Test लें

सेल्फ स्टडी करने के दौरान इसे एक मुख्य हिस्सा माने और अपने किये गए मेहनत को अवश्य जांचे। और इसका सरल सा उपाय यह है की सप्ताह में एक mok Test जरुर दें।

और इस टेस्ट के दौरान पिछ्ले दिनों में किए गए पढ़ाई से ही सवालों का चयन करें और पूरी ईमानदारी से इस टेस्ट को दें।

सेल्फ स्टडी करने के फायदे

हर एक सकारत्मक कार्य का कहीं न कहीं कुछ फायदे हिते है है वैसा ही सेल्फ स्टडी करने का आइए जानते हैं की सेल्फ स्टडी करने से क्या फायदा है?
  • सेल्फ स्टडी करने से नये-नये topic सीख पाते हैं।
  • सेल्फ स्टडी करने से आत्मविश्वास बढ़ता है। और खुद से पढ़ने के लिए Motivate हो पाते हैं।
  • इसके सबसे ज्यादा फायदा उस student का होता है, जो एग्ज़ाम की तैयारी में लगे हुए हैं।
  • सेल्फ स्टडी करने से पहले के मुकाबले पढ़ने में काफी ज्यादा अच्छे हो जाते हैं।
  • सेल्फ स्टडी करने से पढ़ाई गई Topic को पुन: प्रभावी ढंग से समझ पाते हैं।
  • अगर किसी विषय को याद नहीं कर पाते हैं तो उन्हें सेल्फ स्टडी की मदद से याद कर सकते हैं
  • सबसे बड़ा फायदा यह है की सेल्फ स्टडी करने से अपने छमता को पहचान पाते हैं।

सेल्फ स्टडी क्यों जरूरी है?

सेल्फ स्टडी हर पढ़ने वाले छात्र के लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी है।क्योंकि बेहतर जीवन और परीक्षा में बेहतर करने के लिए स्वध्यन करना ही पड़ता है। 

वैसे तो स्कूल-कालेज भी पढ़ने के लिए ही जाते हैं। लेकिन वहाँ पर सिर्फ विषयों को समझाया और बताया जाता है। और इसे समझने के लिए और लंबे समय तक याद रखने के लिए सेल्फ स्टडी की जरुरत होती है।


आशा है की ये लेख आपको पसंद आया होगा। इसमें जाना की सेल्फ स्टडी कैसे करें? Top 10 Self Study Tips in Hindi. सेल्फ स्टडी करने का तरीका. इस लेख से जुड़े हुए किसी भी तरह की प्रश्न को कमेंट के माध्यम से पुछ सकते हैं। आप से आग्रह है की और भी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए हमारे पेज को follow जरूर करें।

FAQ

Q-1. सेल्फ स्टडी कितने घंटा करनी चाहिए?
  • इसकी किसी भी तरह के तय सीमा नहीं होता है। आप अपने अनुसार कभी भी पढ़ाई कर सकते हैं।
Q-2. सेल्फ स्टडी की शुरुआत कब करें?
  • सेल्फ स्टडी आप अपने समय के अनुसार कभी भी कर सकते हैं।

 

CHAHAK BHARAT-चहक भारत

यहाँ है शिक्षा की हर सवालों का हल, जो आपको अपने मंजिल की ओर बढ़ने में काफी मदद करता है। और आप सीख पाते हैं अपने सपने को पुरा करने का ज्ञान

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने